Notes on the Draft Development Plan Summary (Hindi)

अनेक विरॊफ औय दफु ाया सॊशोधन के फाद भॊफु ई का विकास ननमोजन (२०१४-२०३४) वऩछरे हप्तेभेमय औय गट रीडयों के सभकऺ प्रस्ततु ककमा गमा I इस विकास ननमोजन के लरए दो सारका कारािधी फढ़ाकय (Extension) दी गमी थी I मह दस्तािेज़ साभान्म जनता के लरए भॊफु ई केिाडड ऑकपसों भें तथा इनयनेट ऩय उऩरब्ध है I

हभाया शहय विकास ननमोजन अलबमान, भॊफु ई शहय व्माप्त अलबमान है I इस अलबमान भें स्िमॊसेिी सॊस्था, फवु िजीिी, फस्ती के सॊघटन, मनू नमन औय अन्म सॊस्थामें जड़ु ी है I वऩछरे ३ सारो से मह अलबमान बागीदायी तयीके से शहय का ननमोजन हो तथा जन साभान्म के भरु बतू जरुयतो ऩय आधारयत हो इसलरए कामयडत है I इस अलबमान ने विकास ननमोजन फनाने के प्रकिमा भें सभम – सभम ऩय सिीम मोगदान ककमा है I ELU (एक्सेटटगॊ रडैं मजू म्माऩ) म्माऩ
के अभ्मास औय उसके फाद उनभे दरुु स्ती को रेकय रोगों भें जन जागनृ त का काभ ककमा है I अलबमान ने “ऩीऩर व्व्हजन डॉकीभेंट” बी भॊफु ई नगय ऩालरका कों ऩेश ककमा है I इस दस्तािेज़ भें भॊफु ई के रोगों की भरु बतु जरुयतों के दृव्टटकोन का सभािेश है I इसके साथ – साथ अलबमान ने फहुत से विषमों ऩय ऩयाभशड फैठक (कन्सरटेशन) नगयऩालरका औय फहुत सायी सॊस्थाओॊ के साथ लभरकय आमोव्जत की है I इन फैठोकों भें अलबमान भें शालभर सबी घटको ने फढ़कय टहस्सा लरमा औय अऩने विचाय औय सझु ाि यखे I अलबमान के अथक ऩरयश्रभ से िाडड स्थयऩय के बी ऩयाभशड फैठक आमोव्जत ककए गमे I

इसके साथ मिु ा (मथु पॉय मनू नटी एॊड व्होंरीॊटय एक्शन), कभरा यहेजा विद्मा ननधध इॊव्स्टट्मटू ऑफ़ आककडटेक्चय ने भारिणी के लरए एक भॉडर रोकर प्रान भॊफु ई भहानगयऩालरका को प्रस्ततु ककमा I इस प्रान, (ननमोजन) का भख्ु म उद्देश आयाभदेम यहना, काभ कयने के टठकान औय ऩमाडप्त भरु बतु सवु िधाॊमे औय साभाव्जक ढाॊचे उच्च घनत्ि, औय कभ उत्ऩन्न िारे फव्स्तमों भें हालसर कयना I

१९ पयियी २०१५ के शाभ को अलबमान के सबी साथी आगे की यणनननत तम कयने के लरए लभरे I फैठक भें प्रस्ताविक ऩरयितनड शीर एप.एस.आम (FSI) औय टी.ओ.डी (TOD) इनका अस्सय शहय के कटटकयी रोगो ऩय क्मा होगा. नो डव्े हरऩभेंट झोन , आये कॉरनी को उबयते हुए विकास की कें द्र की तयह देखना इन विषमों ऩय चचाड हुई I कोस्टर योड का सभािेश औय अनेक भद्दु े व्जनका सीधा ताल्रकु आगे के फीस सारो भें शहय ऩय कैसा होगा इन भद्दु ोऩय चचाड होगी I उसके साथ इस फैठक भें ड्राफ्ट विकास ननमोजन २०३४ भें टदखने िारी कलभमा औय वियोधाबासो ऩय बी चचाड हुई I उसभें से ननम्न लरखखत भद्दु े साभने आमे –

A १) सािजड ननक उद्देश्मों के लरए बलू भ को आयक्षऺत कयने जैसे औजायों के िैधाननक

तथा ननणमड ात्भक साभर्थमड को कभ कयते हुए, डी.ऩी. २०३४ एक कठोय उदाहयणात्भक स्थानाॊतयण
कयता है I एिॊभ सॊऩणू ड विकास मोजना का ढाॊचा फाजाय को प्रनतमोगात्भक रूऩ भें कामड कयने हेतु
कें टद्रत है I डी.ऩी.मह बी भानता है की, के िर फाजाय शहय की आिश्मकताओॊ तथा प्राथलभकताओॊ
के लरए सिोत्तभ ननधाडयक तथा भागदड शकड है I

२) डी.ऩी साभाव्जक उद्दश्मो कों न ऩहचानते हुए फाजाय उन्भखु मोजनाओॊ ऩय ननबयड कयता है I लसपड
इनता ही नहीॊ फव्ल्क रोगों की सवु िधाओॊ की ऩनू तड के लरए फाज़ाय ऩय अिरॊबफत है I
3) साभाव्जक औय भानिीम विकास का रक्ष्म हालसर कयने के लरए ननमोजन एक छोटा घटक
होना चाटहए I ऩयन्तु इस डी.ऩी. भें विकास का फहुत सकीणड दृव्टटकोण देखते है जो उसके
आधथकड विकास ऩय आधनु नकीकयण की ओय इशाया कयता हैI

4) शहय को स्ऩधाडत्भक, सभािेशी औय टटकािू शहय फनाने की दृटटी से इस डी.ऩी.भें नभदू की गमी हैI
ऩयन्तु साभाव्जक औय भानिीम विकास का दृव्टटकोण कही बी नहीॊ झरकता हैI

B) ऩनु यवितयण को प्रस्तावित कयने के फजाम जगह के उत्ऩादन कों सगु भ फनाता है I

5) मह डी.ऩी. एप.एस.आम के भानक को लशधथर कयते हुए मह गैय प्रनतफॊधात्भक ननमभ
व्मिस्था की ओय बय डारता है I इस नमी टदशा का शहय के ऩनु उड त्थान औय ऩनु नड नभड ाडण ऩय
विघटनकायी प्रबाि ऩड़गे ा I

6) एप.एस.आम के कामड ऩ िती को स्थावऩत कय के घयों की कृ बिभ कभी दयू कयने की तथा
ककपामती दयो ऩे घय उऩरब्ध कयने की जरुयत को ऩयू ा कयता है I ऩयन्तु िस्तव्ु स्थनत मह है की
भॊफु ई भें आज ४.७९ राख घय खारी ऩड़े है I भतरफ शहय भें ननलभतड इतनी जगह उऩरब्ध होने
के फािजदू बी मॊहा ककपामती दयो भें घय उऩरब्ध नही है I

7) मह डी.ऩी.गरत अनभु ान रगता है की, जगह का ननभाडण कयने से असभानता कक
सभस्मा का ननिायण होगा ऩय िास्तविकता भें ऐसा होता नहीॊ है I एप.एस.आम फढ़ाने से घयों
का ननभाडण हो सकता है ऩय िह ककपामती होंगे इसकी शाश्िती नहीॊ टद जा सकतीI

8) मह डी.ऩी. सधु ाय (Improvement) औय उन्नमन (Upgradation) की प्रकिमा को ककपामती घय
उऩरब्ध कयने के उऩाम को नकायता है औय इसके फजाम मह धोयण गयीफों को ऩनु वड िकलसत घयों भें
ढके रता है I

9) डी.ऩी.ननभाडण की हुई जगह औय ककपामती दयो भें घय ननभाडण होने की प्रकिमा भें जो गहया रयश्ता है
उसको नकायता है I इस डी.ऩी भें जादा से जादा घयों का ननभाडण हो मे प्रािधान ककमे गमे है ऩयन्तु
ककस प्रकाय की जगह ननभाडण हो इसऩय ध्मान नहीॊ टदमा गमा है I

10) डी.ऩी.ऩनु वड िकास के अरािा शहय भें नागयी आिास के लरए कोई बी जगह आिॊटटत नहीॊ
कयता है I ककसी बी नननत का भख्ु म उद्देश असभानता को दयू कयने का होना चाटहए ऩयन्तु मह
डी.ऩी. ऐसी कोई बी बलू भका नहीॊ रेता है I ऐसी अिस्था भें सबी गयीफों को शहय के
फाहय जाना ऩड़गे ा I इसके कायण शहय के फाहयी इराकों भें गयीफों की सॊख्मा फढ़ेगी औय एक
तयह का असॊतरु न ननभाडण होगा I

c) व्मिस्थात्भक वियोधाबास

11) कई ननमोजको के काभ मह दशाडते है कक अधॊ ाधदॊु एप.एस.आम भें ििृ ी के ऩरयणाभ फहुत
गॊबीय हो सकते है उच्च जन सॊख्मा औय घनत्ि के इराकों को ननभाडण होता है इस कायण
प्रनतव्मक्ती भरु बतु सवु िधाए कभ होती है , इसके साथ – साथ बौनतक औय फनु नमादी ढाॉचे ऩय
अधधक बाय ऩड़ता है I

12) एप.इस.आम के ििृ ी के असय अरग – अरग नजय आते है सॊभ्ाॊत इराकों भें प्रनत व्मक्ती की
जरुयतफढ़जातीहैऔयगयीफइराकोभेंजनसॊख्माभेंििृ ीहोतीहैI इसकाभतरफमहहैकक,
एप.एस.आम की नननत को बफना ननमभाव्न्ित ककए बफना उऩमोग कयने से साभाव्जक विषभताएॊ फढ़ेगी I

13) डी.ऩी.ने जभीन के अरग – अरग उऩमोगों के लरए अरग – अरग भाऩदॊड यखे है I
आिासीम उऩमोग के लरए National Habitat Policy के नतन गनु ा जादा २७ िगड भीटय प्रनत व्मव्क्त
(बफल्ट अऩ स्ऩेस) ननभाडण कक हुई जगह का अनभु ान रगामा है I व्मािसानमक औय ओद्मोधगक
उऩमोग के लरए UDPFI टदशा ननदेश जो प्रनत व्मव्क्त ११ – १२ िगड के सझु ाि है, ऩरयिाहन के
लरए टदल्री के भाऩदॊड का उऩमोग ककमा है (टदल्री एक काय कें टद्रत शहय है) . टदल्री भेन १८%
बलू भ ऺेि यास्तों के लरए हय िाडड आिॊटटत ककमे गमे है I ऩयन्तु स्िास्थ औय लशऺा के लरए भॊफु ई
के भाऩदॊडो को उऩमक्ु त भाना है I स्िास्थ औय लशऺा जैसी भरु बतु सवु िधाओॊ को नजयअदॊ ाज कय
के ननजी ऺेि के राब को फढ़ािा टदमा जा यहा है I

D) इस डी.ऩी. भें ननजी गनतविधधमों को प्रोत्साहन, सािजड ननक दामये कभ ककमे गमे है I

14) उच्च FSI भल्ू म जभीन के सभाभेरन को प्रोत्साटह कयेंगे अगय FSI का ऩयू ा उऩमोग कयना
हो तो इसका सीधा असय ऩयु ानी जभी भें जभा जभाई भेंड ऩय ऩड़गे ा व्जसका सयोकाय औय
उऩमोग राखो रोग कयते है I

15) दसु या, फड़े बखू डॊ ों के विकास के लरए रगने िारी ननधध फड़ी होगी मानी अफ भॊफु ई भें
ननभाडण का कामड लसपड फड़े ननिेशक ही कयेंगे I

16) मह डी.ऩी. छोटी भरु बतु सवु िधाओॊ के लरए फड़े विकास ऩय ननबयड कयता है I मानी अगय फड़े
बखू डॊ ों का ऩनु नडनभाडण नहीॊ होता है मा रुक जाता है तो उस जगह ऩय छोटी ऩयन्तु जरुयी
सवु िधामे बी उऩरब्ध नहीॊ होंगी I सवु िधाओॊ का लभरना अफ हक्क की फात नहीॊ फव्ल्क
ननजीउद्मोगोंद्िायाहुएऩनुवडिकासऩयननबयड होगीI

17) भरु बतु सवु िधाओॊ तक की ऩहुॉच फहुत फाय साभाव्जक औय आधथकड फाधाओॊ के कायण नहीॊ
होती है I ऩय इस डी.ऩी. भें इसको लसपड नैनतक दयु ी के रूऩ भें सभझा गमा है I इस फात की
चचाड आन्दोरन ने फहुत साये स्टेकहोल्डय (stakeholder)फैठको भें यखी थी I

18) डी.ऩी. की मह भान्मता थी स्िास्थ औय शैऺखणक सवु िधाए प्रमाडप्त है औय हय एक
नागयी को प्राप्त होनी चाटहए है I मह फात चौकाने िारी है साथ ही मह भानना की फड़े बखू डॊ ो
के विकास भेंसे इन सवुिधओॊ की ऩनूतड होगी मह बी एक बरु ािा है I

19) ऩमाडियण के सॊयऺण के लरए डी.ऩी. जॊगरों औय िनस्ऩतीमों सटहत प्राकृनतक ऺेिों के
सॊयऺण की मोजना फनाता है औय साथ ही नो डव्े हरऩभेंट झोन (No development Zone)
जैसे बखू डॊ ों का भख्ु मता आये का विकास उत्प्रेरयत जभीन का दजड देता है I मह अऩने आऩ भें
वियोधाबास दशाडता है I

E.सहभागी नियोजि का ि होिा

20) भॊफु ई नगयऩलरका ने फहुत साये दाॉिदायों की फैठके आमोव्जत की ऩयन्तु उन चचाडओॊ भें
आमे सझु ाि का डी .ऩी. भें सभािेश नहीॊ ककमा I इन फैठकों को औय सहबागी फनामा जा सकता
है ऩयन्तु मह काभ नगयऩालरकाने नहीॊ ककमा I

21) डी.ऩी. की एक गॊबीय आरोचनाओॊ भें से एक फात मह है की चनु ािी ननमोजन ऺेि औय
ननमोजन ऺेि की सीभामे अरग – अरग है Iइन्हभें तारभेर होते हुए नहीॊ टदखता I

22) दसू यी गॊबीय आरोचना इस डी.ऩी. भें मह है की, १०% भॊफु ई की जभीन को स्ऩेशर प्ल्माननगॊ
अथोरयटी (Planning Authority) के नाभ से अरग यखा है I एक ही शहय की जभीन का
फटिाया अरग – अरग अधधकायीमों के हाथ भें दे टदमा है I तो क्मा हभ इस तयह के ननमोजन
को रोक ताॊबिक भान सकते है ?

आन्दोरन से जड़ु े सबी साधथमों को मह डय है की डी.ऩी. के सायाॊश भें व्जन सैधाव्न्तक औय
फदराि की दृव्टटकोण की लसपारयशे की गई है िे टहतकायक फैठको भें आमे विचायों से बफरकुर
अरग है I ऐसा बी रगता है की, रोगों के सझु ाि को , उनकी आिाज को इस दस्तािेज़ ने
अनदेखा कय टदमा है I ३ सार के अथक ऩरयश्रभ को इस तयह से नकाया नहीॊ जा सकता I आने
िारे सभम भें आन्दोरन इस ऩयु े डी.ऩी. का अभ्मास कय के अऩनी प्रनतकिमा रोगों तक ऩहुॉचाने
का कामड कयेगा औय भहानगयऩालरका को देगा I आन्दोरन फैयोव्मिहाय तयीके से झोऩड़ऩट्टी,
आिास,ऩमाडियण जैसे भद्दु ों ऩय आते ६० टदन भें अऩने सझु ाि बेजेगा I

Advertisements